हरिद्वार में नफरत के बोल बोलने वाले यति नरसिंहानंद हुए गिरफ्तार

Yati Narsinghanand
Hate Speech Yati Narsinghanand

नरसिंहानंद पर ‘धर्म संसद’ कार्यक्रम उपद्रवी बातें बोलने का लगा है आरोप

Yati Narsinghanand
नरसिंहानंद पर ‘धर्म संसद’ कार्यक्रम उपद्रवी बातें बोलने का लगा है आरोप

14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

उत्तराखंड पुलिस ने शनिवार की रात को हरिद्वार से यति नरसिंहानंद को गिरफ्तार कर लिया। यति पर ‘धर्म संसद’ कार्यक्रम के दौरान उपद्रवी बातें बोलने का आरोप लगा है। इस मामले में यह दूसरी गिरफ्तारी है इससे पहले उत्तर प्रदेश के सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

मुसलमानों के खिलाफ बोले थे नफरत भरे शब्द

यति नरसिंहानंद ने हरिद्वार में 17-19 दिसम्बर 2021 के बीच धर्म संसद नामक एक कार्यक्रम किया था जिसमें उसके जैसे कई कट्टरपंथी सोच रखने वाले लोग शामिल हुए थे, कार्यक्रम में मुस्लिमों के ख़िलाफ़ नफ़रत उगला जा रहा था और उनके खिलाफ हथियार उठाने की बाते हो रही थी। यह पूरा माजरा कैमरे में क़ैद है जिसका विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुई और लोगों ने वहाँ उपस्थित सभी के खिलाफ कार्रवाई की मांग शुरू कर दी।

एक नज़र इधर भी:- भारत में कोविड वैक्सीन के हुए एक साल पूरे

उत्तराखंड पुलिस ने मामले की जांच की और मुकदमा दर्ज कर लिया, इसमें सबसे पहले गिरफ़्तारी वसीम रिजवी जो की अब जितेंद्र नारायण त्यागी बन गए हैं उनकी हुई, वसीम रिज़वी ने हाल ही में अपना धर्मांतरण कराया था।

मुकदमे में की थी दो लोगों की गिरफ्तारी

नरसिंहानंद की गिरफ्तारी हरिद्वार के सर्वानंद गंगा घाट से हुई जब वो और उसके साथी त्यागी की गिरफ्तारी के खिलाफ धरना प्रदर्शन कर रहे थे। यति को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में रोशनाबाद जेल भेजा गया है। नरसिंहानंद और वसीम रिजवी के साथ साथ कई अन्य लोगों पर मुकदमा दर्ज हुआ है जिसमें से फिलहाल अभी दो लोग की ही गिरफ्तारी हुई है।

इसके अलावा पुलिस अभी भी इस मामले की जांच में लगी हुई है। जल्द ही मामले की सुनवाई की जाएगी। लेकिन तब तक के लिए आरोपियों को पुलिस की हिरासत में रखा गया है और पूछताछ जारी है।