बांग्लादेश में हिंदुओं के खिलाफ भड़क रही हिंसा, शुक्रवार को इस्कॉन मंदिर में हुई तोड़फोड़

हिंदुओं के मंदिर ISKCON में की गई तोड़फोड़ PC: NDTV

हिंदुओं के मंदिर ISKCON में की गई तोड़फोड़ PC: NDTV

हिंदुओं के मंदिर ISKCON में की गई तोड़फोड़ PC: NDTV
हिंदुओं के मंदिर ISKCON में की गई तोड़फोड़ PC: NDTV

शुक्रवार की शाम को बांग्लादेश के नोआखाली शहर में स्थित हिंदुओं के मंदिर ISKCON में की गई तोड़फोड़ और 1 शख़्स की हुई हत्या। ISKCON ने ट्वीट कर बताया कि मंदिर में करीब 200 लोगों की भीड़ जमा हो गई थी जिसने काफ़ी तोड़फोड़ की और एक मेंबर जिसका नाम पार्था दास बताया जा रहा है उसकी हत्या कर दी। पार्था दास का शव मंदिर के पास तालाब के पास मिला जिसके बाद ISKCON ने बांग्लादेश सरकार से अपील की कि इस मामले की जांच और दोषियों को सजा मिले साथ ही साथ बांग्लादेश में हो रहे हिंदुओं पर अत्याचार को रोका जाए।

ISKCON ने अपने ट्वीट में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी टैग किया।

ISKCON ने अपने ट्वीट में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी टैग
ISKCON ने अपने ट्वीट में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी टैग

प्रधानमंत्री ने दोषियों को सज़ा देने की बात कही

यह घटना बांग्लादेशी प्रधानमंत्री शेख हसीना के आश्वासन मिलने के बाद हुई जो की और भी निंदनीय है,कुछ ही दिन पहले कॉमिल्ला जिले में दुर्गा पूजा पंडाल पर पथराव किया गया और वहाँ गए श्रद्धालुओं से मारपीट की गई जिसमें दो लोगों की जान भी चली गई।

बांग्लादेश में भड़की सांप्रदायिक हिंसा

इसके बाद बांग्लादेश में सांप्रदायिक हिंसा का माहौल फैल गया और अल्पसंख्यकों की पूजा स्थानों पर हमले शुरू हो गए हैं, लोग मंदिरों में रखी हुई मूर्तियों को क्षतिग्रस्त करने लगे और चारों तरफ़ हिंसा का माहौल बन गया जिसके बाद शेख हसीना ने पूरे मामले की निष्पक्ष जांच करने की बात कही और कहा कि आरोपियों को कड़ी सजा मिलेगी।

एक नज़र इधर भी:- कांग्रेस कार्यसमिति बैठक: सूत्रों के मुताबिक 20 सितंबर 2022 को होंगे अध्यक्ष पद के चुनाव

बांग्लादेश के चौमुहानी में हो रही हिंसा में पुलिस का कहना है कि भीड़ हिन्दुओं के घर और दुकानों को निशाना बना रही है,वहाँ तोड़फोड़ और चोरी कर रही है। हिन्दू मंदिरों में भी पथराव और तोड़फोड़ हुई जिसके बाद हिंसा भड़क गयी।