Uttarakhand flood: रामगढ़ में मकान के मलबे में दबे लोग, नौ की मौत

उत्तराखंड प्रदेश में दो दिनों से लगातार बारिश ने मचाया अपना कहर PC:- NDTV

उत्तराखंड प्रदेश में दो दिनों से लगातार बारिश ने मचाया अपना कहर PC:- NDTV

उत्तराखंड प्रदेश में दो दिनों से लगातार बारिश ने मचाया अपना कहर PC:- NDTV
उत्तराखंड प्रदेश में दो दिनों से लगातार बारिश ने मचाया अपना कहर PC:- NDTV

उत्तराखंड प्रदेश में दो दिनों से लगातार बारिश ने अपना कहर मचाया हुआ है। जिसके चलते कई क्षेत्रों में मकान जमींदोज हो चुके हैं। ऐसे ही जिला नैनीताल जिले के रामगढ़ ब्लाॅक में नौ लोग इस तरह की घटना का शिकार हो गए हैं। ग्राम प्रधान ने इन मौतों की पुष्टि करते हुए बताया है कि पानी लोगों के घरों में घुस चुका है। गांव में हर जगह त्रस्त हुए मकानों का मलवा फैला हुआ है।

जिसके चलते एसडीआरएफ की टीम भी लोगों की सहायता के लिए नहीं पहुंच पा रही है। रामनगर के इलाकों में भी हर जगह पानी भरा हुआ है। अभी भी रामनगर के एक रिसाॅर्ट में सौ लोगों से ज्यादा के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। 

मलबे में दबने से कई लोगों ने गवाई अपनी जान

अल्मोड़ा जिले में भारी बारिश के चलते एक पहाड़ खिसक चुका है। जिससे आए मलबे में दबने से तीन लोगों की मौैत हुई है। मकान की दीवार के नीचे दबकर एक किशोरी भी अपनी जान गवां चुकी है। इसके अलावा बागेश्वर जिले में पहाड़ी से गिर रहे पत्थरों की चपेट में आकर एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। काठगोदाम रेलवे स्टेशन की पटरियां तक गौला नदी के बहाव के साथ खिसक गई हैं। जिससे अन्य रास्तों के साथ रेलगाड़ियों की सेवाएं भी निरस्त हो चुकी हैं। 

लेमन ट्री रिसोर्ट में कोसी नदी का पहुंच गया है। यह रिसोर्ट रामनगर के मोहान में स्थित हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कई मकान बह जाने के बाद लोग जंगल में जा चुके हैं। ताकि पानी के बहाब से बचा जा सके। इस त्रास्ति के बाद से रास्तों और रेल सेवाओं को शुरू करने में काफी समय लग जाएगा। नौ लोगों की मौत के बात कई लोगों के लापता होने की भी जानकारी सूत्रों ने दी है।