उत्तराखंड चुनाव: भाजपा ने मंत्री हरक सिंह रावत को पार्टी से किया बर्खास्त

हरक सिंह रावत
हरक सिंह रावत Uttarakhand

भाजपा ने हरक सिंह रावत को पार्टी से 6 साल के लिए किया बर्खास्त

हरक सिंह रावत
भाजपा ने हरक सिंह रावत को पार्टी से 6 साल के लिए किया बर्खास्त

मंत्री हरक सिंह रावत के छलके आँसू

उत्तराखंड के पर्यावरण और वन मंत्री डॉक्टर हरक सिंह रावत को भाजपा ने अपनी पार्टी से 6 साल के लिए बर्खास्त कर दिया है, भाजपा का यह बड़ा फैसला रविवार को आया। पार्टी का कहना है की हरक सिंह रावत अपने परिवार वालों के लिए विधानसभा चुनाव का टिकट मांगने के लिए पार्टी पर दबाव बना रहे थे इसी वजह से यह फैसला लेना पड़ा।

खबरों की मानें तो हरक सिंह रावत अपने लिए और अपने परिवार के तीन सदस्यों के लिए टिकट मांग रहे थे जिसमें एक टिकट वो अपनी बहू अनुकृति को लैंसडाउन से चुनाव लड़वाना चाह रहे थे। लेकिन भाजपा को यह रास नहीं आया और उनको मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया साथ ही साथ पार्टी से भी 6 साल के लिए बाहर का रास्ता दिखा दिया।

पार्टी का यह भी आरोप, इस्तीफा देने की दी थी धमकी 

पार्टी का यह भी आरोप है की इससे पहले भी वो ऐसी हरकत कर चुके हैं और इस्तीफा देने की धमकी भी दे चुके हैं, दिसंबर में हुए मंत्रिमंडल की बैठक में वो उठ के चले गए थे। पार्टी तब उनकी बात मान गयी थी लेकिन अब ऐसा नहीं हुआ और उनको पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

एक नज़र इधर भी:- भारत के कथक नृत्य के दिग्गज बिरजू महाराज का 83 की उम्र में निधन

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस मामले में बयान दिया की हमारी पार्टी में उन्होंने विकास के लिए जो माँग की वो हमने पूरा किया लेकिन हम वंश वाद से दूर रहते हैं। उनका दबाव बढ़ता जा रहा था जिसके बाद पार्टी को यह फैसला लेना पड़ा। अब एक परिवार से एक हाई सदस्य को टिकट मिलेगा।

आपको बता दें की हरक सिंह रावत पाँच साल पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे और आज एक बार फिर वो कांग्रेस में शामिल होने वाले हैं। मीडिया से बात करते हुए वे भावुक भी हो गए और कहा की मैंने अमित शाह से वादा किया था कि मैं भाजपा नहीं छोड़ूँगा। रावत ने ये भी बोला कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बन रही है और अगर वो पार्टी में शामिल नहीं भी हो पाए तो वो कांग्रेस के लिए ही काम करेंगे।