संयुक्त किसान मोर्चा ने योगेन्द्र यादव को एक महीने के लिए पार्टी से किया बर्खास्त, ये रही वजह

पार्टी ने योगेन्द्र यादव को एक महीने के लिए बर्खास्त

पार्टी ने योगेन्द्र यादव को एक महीने के लिए बर्खास्त

पार्टी ने योगेन्द्र यादव को एक महीने के लिए बर्खास्त
पार्टी ने योगेन्द्र यादव को एक महीने के लिए बर्खास्त

लखीमपुर हिंसा में संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव को पीड़ित परिवार से मिलना पड़ा भारी,पार्टी ने एक महीने के लिए बर्खास्त किया। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में कुछ दिनों पहले हुई हिंसा में आठ व्यक्तियों की मौत हो गई थी जिनमें चार आंदोलन कर रहे किसान थे।

लखीमपुर हिंसा में भाजपा के मंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्रा पर आंदोलन कर रहे किसानों के को गाड़ी से रौंदने का आरोप है जिसके बाद हिंसा भड़क गई और वह मौजूद किसानों ने भाजपा के कार्यकर्ता शुभम मिश्रा को पीट पीट कर मार दिया।

मृत किसानों के परिवारों से मिले राहुल गांधी,प्रियंका गांधी,अखिलेश यादव और अन्य कई नेता पहुंचे जब कि भाजपा कार्यकर्ता के परिवार से इनमें से कोई नेता नहीं मिला लेकिन संयुक्त किसान मोर्चा के नेता योगेंद्र यादव इस पीड़ित परिवार से मिलने गए और उनसे संवेदना प्रकट की। योगेंद्र यादव का यह कृत उनके साथी नेताओं और आंदोलन कर रहे किसानों को नहीं भाया जिसकी वजह से संयुक्त किसान मोर्चा को एक मीटिंग बुलानी पड़ी जिसमें योगेंद्र यादव ख़ुद भी मौजूद थे और यह फ़ैसला लिया गया कि उनको 1 महीने के लिए पार्टी से बाहर किया जाएगा। 

आपको बता दें कि लखीमपुर हिंसा भड़काने वाले चार आरोपियों की कस्टडी के पुलिस ने बढ़ा दी है और उनसे पूछताछ जारी है। चारों आरोपी 19 अक्टूबर को कोर्ट के सामने मौजूद हुए जिसके बाद कोर्ट ने है उनकी 14 दिन की रिमांड और बढ़ा दी।