सिद्धू ने इन 13 मुद्दों को लेकर लिखा सोनिया को पत्र

पंजाब में पुनरुत्थान करने के लिए कांग्रेस पास यह अंतिम अवसर

पंजाब में पुनरुत्थान करने के लिए कांग्रेस पास यह अंतिम अवसर

पंजाब में पुनरुत्थान करने के लिए कांग्रेस पास यह अंतिम अवसर
पंजाब में पुनरुत्थान करने के लिए कांग्रेस पास यह अंतिम अवसर

नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्षा को पत्र लिखकर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी के कामकाज पर सवाल खड़े किए हैं। परोक्ष रूप से सिद्धू ने सीएम के प्रति अपनी नाराजगी व्यक्त की है। लेकिन उन्होंने जिन मुद्दों को पत्र के माध्यम से सामने रखा है, इन पर कार्य होना प्रदेश के लिए काफी जरूरी है। सिद्धू ने कहा है कि पंजाब में पुनरुत्थान करने के लिए कांग्रेस पास यह अंतिम अवसर है। 

इन 13 मुद्दों को दी प्राथमिकता

सिद्धू ने नशे से लेकर बिजली व कृषि जैसे विषयों को अपने पत्र में लिखा है। उन्होंने लिखा है कि बेअदबी, बहिबल और कोटकपूरा में हुए गोलीकांड को लेकर जल्द से जल्द आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। पंजाब के किसान पूरी तरह से कृषि कानूनों का विरोध करते हैं। किसान आंदोलन के चलते कई किसान अपनी जान  गवां चुके हैं। प्रदेश में इन कानूनो को जल्द से जल्द खारिज करना चाहिए। 

पंजाब के सभी जिलों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति की सुविधा नहीं है। इस समस्या का समाधान करके शहरी घरेलू उपभोक्ताओं को सस्ती बिजली मुहैया करवाई जाए। इस समय जनता से 3 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से पैसा वसूला जा रहा है। पंजाब में 300 यूनिट तक उपयोग होने वाली बिजली को मुफ्त किया जाए। इसी के साथ अनुसूचित जाति, पीपीएएस पर पत्र के साथ देश में आई कोयले की समस्या पर भी विचार किया जाए। 

रोजगार और सिंगल विंडो सिस्टम को भी मजबूत किया जाए। इसी के साथ महिला और युवा सशक्तिकरण पर भी सरकार को पूरा जोर देना चाहिए। रेत खनन ने पंजाब  की अर्थव्यवस्था को भी प्रभावित किया है। लोगों पर प्रदेश विकास के हित के लिए ही रेत खनन होना चाहिए। केबल माफिया और शराब पंजाब के लिए शुरू से ही बहुत बड़ी चुनौती रही है। 13 हजार अवैध परमिट वाली बसों को हटाकर पंजाब के युवाओं के लिए परमिट जारी किया जाए।