शेख हसीना की सरकार ने किया खुलासा, बांग्लादेश में कितने हिंदू मंदिरों को किया गया नष्ट

सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों पर स्पष्टीकरण जारी

सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों पर स्पष्टीकरण जारी

सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों पर स्पष्टीकरण जारी
सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों पर स्पष्टीकरण जारी

बांग्लादेश सरकार ने देश में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए लोगों पर स्पष्टीकरण जारी किया। शेख हसीना के नेतृत्व वाली सरकार ने कहा कि झड़पों में छह लोग मारे गए, जिनमें से चार मुस्लिम थे और दो हिंदू थे। सोशल मीडिया में ऐसी कई वीडियो वायरल हुई है जिन में साफ़ साफ़ देखा जा सकता है कि मंदिरों को तोड़ा जा रहा है। 

एक नज़र इधर भी:- आर्यन खान को सरेंडर करना होगा पासपोर्ट, हर शुक्रवार को एनसीबी ऑफिस में देनी होगी रिपोर्ट

मिली जानकारी के अनुसार अभी चल रहे प्रचार के विपरीत, हाल की हिंसा के दौरान केवल 6 लोग मारे गए, जिनमें से 4 मुस्लिम थे, कानून लागू करने वाले अधिकारियों के साथ मुठभेड़ के दौरान मारे गए, और 2 हिंदू थे, जिनमें से एक की सामान्य मौत थी और दूसरा जब वह एक तालाब में कूद गया था।

बांग्लादेश विदेश मंत्री एके अब्दुल मोमेन ने कहा किसी के साथ बलात्कार नहीं हुआ और एक भी मंदिर को नष्ट नहीं किया गया।” । बांग्लादेश में झड़पों की खबरें थीं जिनमें मंदिरों में तोड़फोड़ की गई, दुर्गा पूजा पंडालों को नष्ट कर दिया गया। हिंसा के कई वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुए।