विजयदशमी पर पीएम मोदी करेंगे 7 नई रक्षा कंपनियां राष्ट्र को समर्पित

सात नई रक्षा कंपनियों को देश के लिए समर्पित करने का निर्णय

सात नई रक्षा कंपनियों को देश के लिए समर्पित करने का निर्णय

सात नई रक्षा कंपनियों को देश के लिए समर्पित करने का निर्णय
सात नई रक्षा कंपनियों को देश के लिए समर्पित करने का निर्णय

विजयदशमी के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को सात अन्य रक्षा कंपनियां समर्पित करने जा रहे हैं। रक्षा मंत्रालय द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पीएम वीडियो संबोधन देंगे। रक्षा उद्योग संघों के प्रतिनिधि और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी अवसर पर मौजूद रहेंगे। देश की सुरक्षा को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री कार्यालय ने सात नई रक्षा कंपनियों को देश के लिए समर्पित करने का निर्णय लिया है। पूर्ण स्वामित्व वाले सात निगमों में आयुध निर्माणी बोर्ड के एक विभाग को बदला जाएगा। 

शुक्रवार दोपहर को 12 बजकर 10 मिनट पर इन सात डीपीएसयूएस को भारत को सौंप दिया जाएगा। रक्षा मंत्रालय 28 सितंबर को ही यह आदेश जारी कर चुका है। इन सात कंपनियों को भारत की रक्षा हेतु निर्मित किया गया है। इस समय लगातार आंतकी घुसपैठ के मामले भी देश में देखने में आ रहे है। इस लिए राजधानी में हाई अलर्ट तक जारी कर दिया गया है। त्योहारों के चलते देश में बढ़ रही भीड़ प्रशासन की चिंताओं को बढ़ा रही है। सीमा पर भी तनाव की स्थिति कभी भी बन सकती है। 

देश की रक्षा में जुटेंगी यह सात कंपनियां

  • मुनिशन्य इंडिया लिमिटेड 
  • एडवांस्ड एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड
  • ट्रूप कम्फर्ट लिमिटेड
  • यंत्र इंडिया लिमिटेड
  • बख्तरबंद वाहन निगम लिमिटेड
  • ग्लाइडर्स इंडिया लिमिटेड
  • इंडिया आप्टेल लिमिटेड

गुस्साए है कर्मचारी, कोर्ट में दर्ज की याचिका

आयुध निर्माणी बोर्ड को खत्म कर 7 निगम बनाने के फैसले को लेकर मजदूरों ने काफी रोष प्रकट किया है। इतना ही नहीं मजदूरों ने कोर्ट मंे याचिका दर्ज करवा दी है। रक्षा मंत्रालय ने 1 अक्टूबर को ही 7 नई कंपनियों का निर्माण कर दिया था। जिसके लिए आयुध निर्माणी बोर्ड को समाप्त करना पड़ा था। बता दें इसके आदेशों को 28 सितंबर को ही जारी कर दिया गया था। इस समय गोला बारुद, सेना की युनिफाॅर्म और मिसाइल बनाने वाले कारखानों के कर्मचारी काफी गुस्से में हैं।