भारत मनाएगा 73वां गणतंत्र दिवस, सुबह 10.30 बजे से शुरू परेड

Republic Day
गणतंत्र दिवस गणतंत्र दिवस

73वे गणतंत्र दिवस पर परेड के साथ साथ इन सब को नवाजा जाएगा पद्म विभूषण से

Republic Day
73वे गणतंत्र दिवस पर परेड के साथ साथ इन सब को नवाजा जाएगा पद्म विभूषण से

भारत बुधवार को दिल्ली में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है, जहां परेड और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। सूत्रों से मिली एक रिपोर्ट के अनुसार, गणतंत्र दिवस परेड इस साल सामान्य से आधे घंटे बाद सुबह 10.30 बजे शुरू होगी। परेड में 21 झांकी, भारतीय वायु सेना द्वारा 75-विमानों का फ्लाईपास्ट और देश भर के 480 से अधिक नर्तकियों द्वारा सांस्कृतिक प्रदर्शन शामिल होंगे।

पिछले साल की तरह, इस समारोह में भाग लेने वालों के लिए सख्त दिशानिर्देशों के साथ कोरोना वायरस महामारी के बीच समारोह आयोजित किए जा रहे है।

एक नज़र इधर भी:- यह रही नेटफ्लिक्स की सबसे दमदार वेब सीरीज, पढ़े पूरी लिस्ट

उन्हें कोरोना वायरस बीमारी के खिलाफ पूरी तरह से टीका लगाया होना चाहिए और टीकाकरण का अपना प्रमाण साथ होना अनिवार्य होगा। सभी कोविड -19 प्रोटोकॉल का पालन करेंगे जैसे कि मास्क पहनना और शारीरिक दूरी बनाए रखना। वहीं 15 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की अनुमति नहीं है।

केंद्र ने मंगलवार को पद्म पुरस्कारों की घोषणा की थी। भारत के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, जिनकी पिछले महीने एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी। उनके अलावा उत्तर प्रदेश के स्वर्गीय कल्याण सिंह को भी पद्म विभूषण से सम्मानित किया जाएगा और उन सभी को श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी।

भारत बायोटेक के संस्थापक कृष्णा एला और उसकी पत्नी सुचित्रा एला, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के प्रबंध निदेशक साइरस एस पूनावाला, माइक्रोसॉफ्ट के कार्यकारी अध्यक्ष सत्य नडेला, Google की मूल कंपनी अल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई पद्म भूषण पाने वालों में से हैं।

पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के नेता बुद्धदेव भट्टाचार्य ने पद्म भूषण पुरस्कार को अस्वीकार कर दिया, इसके लिए उनके नाम की घोषणा के कुछ घंटे बाद। इस बीच बुधवार को कई राजनेताओं ने ट्विटर पर नागरिकों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी।