उत्तराखंड में हुआ भीषण सड़क हादसा, खाई में गाड़ी गिरने से हुई 13 लोगों की मौत

नियंत्रण खोने के कारण गाड़ी 400 मीटर की गहराई में जा गिरी

नियंत्रण खोने के कारण गाड़ी 400 मीटर की गहराई में जा गिरी

नियंत्रण खोने के कारण गाड़ी 400 मीटर की गहराई में जा गिरी
नियंत्रण खोने के कारण गाड़ी 400 मीटर की गहराई में जा गिरी

उत्तराखंड में रविवार की सुबह चकराता क्षेत्र में भीषण सड़क हादसा हुआ जिसमें 13 लोगों की अब तक मौत हो चुकी है। यह हादसा रविवार की सुबह चकराता के सुदूरवर्ती इलाक़े के त्यूनी रोड पर हुआ, क़रीबन 10 बजे हुई इस घटना ने पूरे शहर को हिला का रख दिया। चकराता देहरादून ज़िले के अंतर्गत आता है। जानकारी के मुताबिक एक बोलेरो गाड़ी जिसमें 15 लोग सवार थे, वो अनियंत्रित हो गयी।

एक नज़र इधर भी:- पश्चिम बंगाल: आज से 50 फीसदी क्षमता से चलेंगी लोकल ट्रेन

नियंत्रण खोने के कारण गाड़ी 400 मीटर की गहराई में जा गिरी जिससे सवार 13 लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि बचे अन्य 2 व्यक्ति बुरी तरीक़े घायल हैं और उनका इलाज फ़िलहाल अस्पताल में चल रहा है। 13 लोगों के शव खाई से बरामद कर लिए गए,स्थानीय निवासी और गाँव वालों ने पुलिस के साथ मिलकर राहत और बचाव का कार्य संभाला।दुर्घटना के कारणों की जाँच पुलिस प्रशासन करेगा।

स्थानीय निवासियों ने बड़ी मेहनत मशक़्क़त करके शवों को 400 मीटर की गहराई वाली खाई से बाहर निकाला और घायलों को चकराता अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मृतकों के लिए संवेदनाएं प्रकट की और घायलों का तुरंत इलाज करवाने के निर्देश दिए। हादसे के बाद उत्तराखंड के DGP अशोक कुमार ने भी बयान दिया कि एक बुलेरो गाड़ी में सिर्फ़ 9 लोगों की क्षमता होती है और इसमें 15 लोग सवार थे, यह हादसा ओवरलोडिंग की वजह से हो सकता है लेकिन हम इसकी गंभीरता से जाँच करेंगे।