पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह जल्द करेंगे अपनी नई पार्टी के नाम का ऐलान

पंजाब चुनावों में पूरे 117 सीटों से लड़ेंगे और चुनाव

पंजाब चुनावों में पूरे 117 सीटों से लड़ेंगे चुनाव

पंजाब चुनावों में पूरे 117 सीटों से लड़ेंगे और चुनाव
पंजाब चुनावों में पूरे 117 सीटों से लड़ेंगे चुनाव

बुधवार को कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मीडिया से बात करते वक़्त बताया कि वो पंजाब चुनावों में पूरे 117 सीटों से लड़ेंगे और चुनाव आयोग ने लिखा पढ़ी के बाद अपनी नई पार्टी का नाम जल्द ही सबके सामने लाएंगे। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कुछ दिनों पहले कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दिया है और इस्तीफ़े के बाद उन्होंने एक नई पार्टी बनाने का ऐलान किया था।

कैप्टन का यह भी कहना है कि वो भाजपा के साथ मिलकर चुनाव लड़ सकते हैं लेकिन उन्होंने यह साफ़ कर दिया है कि हम गठबंधन नहीं करेंगे लेकिन चुनावों की सीट बाँटने पर विचार कर रहे हैं, अमरिंदर सिंह कुछ दिन पहले भारत के गृह मंत्री अमित शाह से मिले थे जिसके बाद उन्होंने भाजपा के साथ अपनी नई पार्टी के गठबंधन के संकेत दिए थे लेकिन उन्होंने यह भी साफ़ किया था कि उनका यह फ़ैसला कृषि कानूनों को ध्यान में रखकर लिया जाएगा।

मीडिया की प्रेस वार्ता में कैप्टन ने केंद्र सरकार का BSF का पंजाब में दायरा बढ़ाने वाले आलोचकों पर भी प्रश्न उठाया,उन्होंने कहा कि पंजाब में 15-50 किलोमीटर तक BSF होगी तो इसमें किसी को क्या दिक्कत है क्योंकि राज्य को आतंकवादियों और बढ़ते खालिस्तानी समूह से ख़तरा हो सकता है जिसके लिए यह फ़ैसला बिल्कुल सही है। अमरिंदर सिंह ने पंजाब में पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की तरफ़ से बढ़ती ड्रोन गतिविधियों पर भी चर्चा की और कहा कि शायद कुछ गड़बड़ हो सकती है इसलिए मैं इस फ़ैसले का पूर्ण समर्थन करता हूँ।

कैप्टन ने यह भी साफ़ किया कि वो किसी भी किसान के साथ संपर्क में नहीं है क्योंकि किसान नहीं चाहते कि कोई राजनीतिक पार्टी उनके मामलों में दखल दे इसलिए वो उनके संपर्क में नहीं हैं लेकिन गृह मंत्री अमित शाह से वो कल यानी गुरुवार को मुलाकात करेंगे।