दिल्ली प्रदूषण: तीसरे दिन भी वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में

दिवाली समारोह के बाद पांच साल में दिल्ली में वायु गुणवत्ता सबसे खराब PC:- DNAIndia

दिवाली समारोह के बाद पांच साल में दिल्ली में वायु गुणवत्ता सबसे खराब PC:- DNAIndia

दिवाली समारोह के बाद पांच साल में दिल्ली में वायु गुणवत्ता सबसे खराब PC:- DNAIndia
दिवाली समारोह के बाद पांच साल में दिल्ली में वायु गुणवत्ता सबसे खराब PC:- DNAIndia

दिल्ली में समग्र वायु गुणवत्ता लगातार तीसरे दिन ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी हुई है। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) के अनुसार, एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) 432 है। दिवाली पर, समग्र वायु गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में फिसल गई और शुक्रवार को दोपहर में 462 तक पहुंचने के लिए इसकी ऊपर की प्रवृत्ति जारी रही। दिवाली समारोह के बाद पांच साल में दिल्ली में वायु गुणवत्ता सबसे खराब रही और पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने की घटनाएं बढ़ीं।

एक नज़र इधर भी:- सूर्यवंशी का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन दूसरे दिन ₹50 करोड़ से पार

हालांकि, हवा की गति तेज होने के कारण शनिवार की सुबह 449 पर राष्ट्रीय राजधानी में एक्यूआई के साथ स्थिति में थोड़ा सुधार हुआ। रविवार सुबह यह 436 पर रहा, जबकि शाम को इसमें और सुधार हुआ। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी वायु प्रदूषण की स्थिति के बारे में ट्वीट किया और डेटा साझा किया।

केजरीवाल ने ट्वीट के माध्यम से जानकारी साझा करते हुए बताया कि एक्यूआई 400 से 500 के बीच में गंभीर बताया जाता है। बीते कल दिल्ली में यह 428 दर्ज किया है। वहीं पीएम 2.5 में 309 की संख्या दर्ज की गयी है, जिसे 250 से ऊपर ही गंभीर माना जाता है। पचास से न्यूनतम एक्यूआई को वातावरण में सही और अच्छा माना जाता है। विशेषज्ञों की मानें तो 400 से ऊपर गए एक्यूआई को बहुत ही गंभीर कहा जाता है और यह स्वास्थ्य को बुरी तरह प्रभावित करता है।