श्रीनगर के स्कूल में घुसकर आतंकियों ने बरसाई शिक्षकों पर गोलियां, तलाश जारी

दोनों शिक्षकों की हत्या कर आतंकी मौके पर फरार PC:- IndiaTVnews

दोनों शिक्षकों की हत्या कर आतंकी मौके पर फरार PC:- IndiaTVnews

दोनों शिक्षकों की हत्या कर आतंकी मौके पर फरार PC:- IndiaTVnews
दोनों शिक्षकों की हत्या कर आतंकी मौके पर फरार PC:- IndiaTVnews

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में फिर से आतंकियों ने फायरिंग की है। श्रीनगर के डाउनटाउन इलाके में हुई यह फायरिंग दो नागरिकों पर की गई है। जिसमें दोनों शिक्षकों की हत्या कर आतंकी मौके पर फरार हो गए थे। मिली जानकारी अनुसार दोनों शिक्षक ईदगाह हायर सेकेंडरी स्कूल में कार्यरत थे। 

इस तरह दिया जुर्म को अंजाम

दोनों शिक्षक रोजमर्रा की तरह ही स्कूल को जा रहे थे, लेकिन यह आतंकी पहले से ही स्कूल की तरफ घात लगाए बैठे थे। देखते ही देखते दोनों आतंकियों ने स्कूल में घुसना शुरू कर दिया। जिसके बाद आतंकियों ने अपनी पिस्तौल से दोनों शिक्षकों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जिसके बाद से वह घटनास्थल से भाग निकले। नकाब डालने की वजह से कोई भी दोनों अपराधियों का चेहरा नहीं देख पाया।

तलाशी अभियान है शुरू

इस घटना के बाद से सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। इस बार फिर से पिस्तौल का प्रयोग किया गया है। सुरक्षाबलों ने इलाके को चारों तरफ से घेर कर रखा है। घटनास्थल के इलाकों में अफरा तफरी मची हुई है, क्योंकि आतंकियों के छिपने की आशंका आस-पास के इलाकों में ही बताई जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मृतकों की पहचान सतिंदर कौर और जम्मू के जानीपुर के रहने वाले दीपक चंद के रूप में हुई है। इसमें सतिंदर कौर डाउनटाउन में ईदगाह हायर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल थे। 

आतंकियों का इस तरह नागरिकों को मारने का कारण यह बताया जा रहा है कि वह आम जनता में डर पैदा करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट के माध्यम से इन हत्याओं को लेकर शोक जताया है।

ट्वीट में कहा गया है कि नया कश्मीर बनाने के दावे करने वाली सरकार ने इसे नरक बना दिया है। वहीं उमर ने कहा कि मैं मृतकों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं।