15 साल पुराने वाहनों के रजिस्ट्रेशन नवीनीकरण करने पर लगेंगे 5000 रुपए

15 साल पुरानी गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन पर 8 गुना फीस बढ़ाया गया

15 साल पुरानी गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन पर 8 गुना फीस बढ़ाया गया

मंगलवार को सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने राष्ट्रीय वाहन कबाड़ नीति को लेकर इंसेंटिव और डिसइनसेंटिव से संबंधित अधिसूचना जारी की है। इस नीति के तहत वाहन मालिकों को पुरानी गाड़ियों को बेचने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

मंत्रालय ने ये अगले साल के सोमवार से ये नियम लागू करने का फ़ैसला लिया है। लेकिन ते नियम दिल्ली, एनसीआर में नहीं होंगे लागू क्यूँकि वहाँ पहले से ही 10 साल पुरानी डीजल गाड़ियां और 15 साल पेट्रोल गाड़ियों पर पहले से ही रोक लगी है। 15 साल पुरानी गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन पर 8 गुना फीस बढ़ाया गया, यह पहले 600 थी जो अब 5000 कर दी जाएगी। रजिस्ट्रेशन नवीनीकरण का नया नियम अप्रैल 2022 से लागू होंगे और यह नियम सरकार की राष्ट्रीय वाहन कबाड़ नीति का हिस्सा है।

इतना बढ़ेगा इन वाहनों पर शुल्क
पुरानी बाइक: दोपहिया के पंजीकरण के नवीनीकरण का शुल्क 300 रुपये की बजाए 1000 रुपये होगा।

बस-ट्रक फिटनेस: 1500 रुपये की बजाए 12,500 रुपये लगेंगे।

बाइक के रजिस्ट्रेशन नवीनीकरण के लिए 10 हजार रुपये और कारों के लिए 40,000 रुपये लगेंगे।