ड्रग्स मामले में आर्यन खान को 3 हफ्ते बाद मिली जमानत, इस हफ्ते लौटेंगे घर

23 वर्षीय आर्यन खान को गुरुवार को बॉम्बे हाई कोर्ट ने जमानत

23 वर्षीय आर्यन खान को गुरुवार को बॉम्बे हाई कोर्ट ने जमानत

अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धामेचा को भी जमानत
अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धामेचा को भी जमानत

बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को गुरुवार को बॉम्बे हाई कोर्ट ने ड्रग्स-ऑन-क्रूज मामले में जमानत दे दी है। अरबाज मर्चेंट और मुनमुन धामेचा को भी जमानत मिल गई है। एनसीबी कोर्ट द्वारा उनकी पिछली जमानत याचिका खारिज होने के बाद आर्यन खान ने मुंबई की आर्थर रोड जेल में लगभग तीन सप्ताह बिताए हैं। जमानत का विस्तृत आदेश कल जारी किया जाएगा और आदेश आने तक आर्यन, अरबाज और मुनमुन को जेल से रिहा नहीं किया जाएगा, जहां वे 8 अक्टूबर से बंद हैं। ऐसे में बहुत संभावना है कि आर्यन खान शुक्रवार या शनिवार को जेल से बाहर निकलेंगे।

एक नज़र इधर भी:- भारत नवंबर में 30 करोड़ कोविड वैक्सीन खुराक खरीदेगा

बॉम्बे हाईकोर्ट ने गुरुवार को लगातार तीसरे दिन मामले की सुनवाई की गई। जस्टिस एनडब्ल्यू साम्ब्रे ने आर्यन खान के लिए पूर्व एजी मुकुल रोहतगी और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के एएसजी अनिल सिंह की सुनवाई के बाद तीनों आरोपियों को जमानत दे दी।

बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को मुंबई हाईकोर्ट ने जमानत पर रिहा कर दिया है। आर्यन खान को 2 अक्टूबर के बाद एनसीबी ने क्रूज शिप से हिरासत में लिया था। उन पर ड्रग सेवन और ड्रग्स तस्करी का आरोप है। आर्यन खान ने 3 हफ्ते मुंबई की आर्थर रोड जेल में गुजारे हैं। इससे पहले एनसीबी कोर्ट उनकी सारी जमानत की अर्जी खारिज करता आया है।

जमानत की अर्जी एनसीबी कोर्ट में खारिज होने के बाद आर्यन खान एवं उनके वकील ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। हाईकोर्ट ने आर्यन खान मुनमुन धामेचा और अरबाज मर्चेंट तीनों को जमानत दे दी। गौर करने की बात यह है की आर्यन खान को जेल से निकलने में अभी भी 2 दिन का वक्त लगेगा। यह वक्त इसलिए लगेगा क्योंकि हाईकोर्ट से जमानत के कागजात जेल पहुंचने में 1 से 2 दिन का समय लगता है।

हाईकोर्ट में आर्यन खान की जमानत पर लगातार तीन दिनों तक सुनवाई चली। अंततः जस्टिस एन डब्लू सांबरे ने तीनों को जमानत दे दी।

एनसीबी इस रिहाई का लगातार विरोध करता रहा और उसने या आरोप लगाया कि आर्यन खान काफी समय से वृक्ष लेता रहा है और उसके ड्रग्स तस्करों से भी संबंध हैं। मुकुल रोहतगी जोगी आर्यन खान के वकील हैं उन्होंने कोर्ट में दलील दी की एनसीबी यह सारे आरोप सिद्ध नहीं कर सकी है।

जबकि एनसीबी ने यह कहकर जमानत का विरोध किया कि आर्यन खान ड्रग्स के लिए नए नहीं थे और पेडलर्स से निपटते थे, मुकुल रोहतगी ने कहा कि एनसीबी किसी भी साजिश को साबित नहीं कर सका जैसा कि उसने दावा किया है।

एनसीबी ने एक रेव पार्टी पर छापा मारा जहां से आर्यन, अरबाज और मुनमुन को गिरफ्तार किया गया। मामला राजनीतिक तूफ़ान में बदल गया और इसमें अनियमितता, जबरन वसूली के आरोप जोड़े गए।